लाइफस्टाइल

रंग प्यार का

रंग प्यार का

तेरी आँखों का रंग जो चढ़ा है मुझपर..
कि ये गुलाल क्या रंग अब लायेगा…
तेरे इश्क का नशा जो चढ़ा है मुझपर..
कि भांग क्या मुझे अब भाएगा…
ये रंग फीका न होगा..
ये नशा कम न होगा..
मेरा साकी है तू…
कि होंठो से आज पिलाएगा…
अलंकृता

Related posts

लहसुन की एक कली खाने से दूर हो जाते है कई रोग

admin

मधुमेह की रामबाण औषधि है काला जीरा

admin

मैथीदाने के गुण

admin

Leave a Comment