रोचक खबर

अब ‘मैसेंजर ऍप’ इंस्टॉल किए बगैर फेसबुक से मैसेजिंग नहीं कर पाएंगे स्मार्टफोन यूजर

फेसबुक के द्वारा वर्ष 2014 में अपने स्मार्टफोन यूजर के लिए मैसेंजर ऍप लॉन्च किया गया था। मैसेंजर ऍप फेसबुक यूजर के लिए एक सेपरेट चैट ऍप है। मैसेंजर ऍप के आने पर कंपनी ने फेसबुक ऍप में मैसेजिंग को डिसेबल करके यूजर के लिए मैसेंजर ऍप डाउनलोड करना आवश्यक कर दिया था। इस मामले में कंपनी ने अब एक और नया कदम उठाते हुए अपने मोबाइल वेब ऍप में भी मैसेजिंग को बंद करके यूजर पर मैसेंजर ऍप डाउनलोड करना आवश्यक कर दिया है।

दुनिया भर के कई यूजर की ओर से शिकायत आ रही है कि अब तो फेसबुक मोबाइल वेब ऍप पर मैसेज जांचने की कोशिश करने पर एक मैसेज पॉप अप आता है। जिसमे “योर कनवरसेशन आर मूविंग टू मैसेंजर.” मेसेज आता है. इस मेसेज के आगे यूजर को और ज्यादा जानकारी भी दी गई है, जिसमे कहा गया है, ” शीघ्र ही आप अपने मैसेज सिर्फ मैसेंजर में देख पाएंगे.” कुछ यूज़र ने तो यह भी कहां है कि इस soon से फेसबुक का मतलब अभीर है।

यह इसलिए कि इस  नोटिफिकेशन को हटाने के बाद भी अगर आप मेसेज खोलने कि कोशिश करते है तो आपको गूगल प्ले स्टोर कि लिस्टिंग की और डायरेक्ट कर दिया जाता है.आपको यहाँ बता दे कि ऐसा फिलहाल एंड्रॉयड यूज़र को ही देखने को मिल रहा है। फेसबुक के एक ऑफिसर ने बारे में टेक्नोलॉजी वेबसाइट टेकक्रंच को बयान दिया कि कंपनी मैसेजिंग के सबसे अच्छा अनुभवव मुहैया कराने की कोशिश में लगी है।

इस बात से समझा जा सकता है, कि फेसबुक इस कदम के तहत अपने मैसेंजर ऐप उपयोग करने वाले  यूज़र की संख्या बढ़ाने कि तरफ गम्भीर ह।. इस बात का निष्कर्ष यही निकलता है कि जो यूजर अब तक आधिकारिक फेसबुक ऐप से बचने के लिए मोबाइल वेब इंटरफेस का इस्तेमाल करते रहे थे , उन्हें भी अब आवश्यक रूप से मैसेंजर ऐप डाउनलोड करना ही होगा. इससे पहले अप्रैल महीने में ही फेसबुक ने उसके मैसेंजर वॉयस कॉलिंग और मैसेजिंग ऐप को दुनिया भर में 900 मिलियन यूज़र द्वारा उपयोग किए जाने के बारे में बताया था. इस कदम के माध्यम से आने वाले समय में मैसेंजर यूजर की संख्या में बढ़ोतरी देखी जा सकती  है।

Related posts

पीएम माेदी मध्‍य एशिया की छह दिवसीय यात्रा 

admin

ऋतिक-सुजैन हुए एक

admin

मंगल ग्रह पर पहली बार आयी मौसमी धूल भरी आंधी

admin

Leave a Comment