लाइफस्टाइल

अनन्नास के औषधीय गुण

अनन्नास दुनिया का सबसे लोकप्रिय उष्णकटिबंधीय फल है जिससे सबसे पहले ब्राजील में उगाया गया बाद में प्रसिद्ध नाविक कोलम्बस यूरोप लाया तथा पुर्तगाली इसे भारत लाये । अनन्नास खाने में मीठा, रसदार और स्वादिष्ट होता है । अनन्नास रस हमेशा लोगों का एक पसंदीदा पेय रहा है । अनन्नास हमारे यहां जुलाई से नबम्बर तक काफी मात्रा में मिलता है । अनन्नास पाचक तत्वों से भरपूर, शरीर को शक्ति देने वाला, हृदय और मष्तिशक को शक्ति देने वाला, कृमि नाशक, स्फूर्ति दाई फल है । ये वण मंे निखार लाता है । गर्मी में इसके उपयोग से ताजगी व ठंडक मिलती है । अनन्नास का रस कंठ रोहिणी की झिल्ली को काट देता है और गले को साफ रखता है इसकी यह प्रमुख प्राकृतिक औषधि है । ताजे अनन्नास में पेप्सिन पित्तका का एक प्रधान अंश होता है ।

. अनन्नास की कुछ प्रसिद्ध किस्मों में सुगरलोफ (2.7 किलो),

लाल स्पेनिश (1-2 किलो),

रानी (1.5 किलो),

क्यू  (2-3 किलो) और चिकना केपेन (2.5-3 किलो) हैं

.1. अनन्नास एंटी आॅक्सीडेन्ट से भरपूर है इसमे ब्रोमिलेन एंजाइम और विटामिन सी का समृद्ध स्त्रोत है जो मुक्त कण के खिलाफ शरीर से लड़ने में मदद करते हैं ।

2. अनन्नास पौषक तत्वों से भरपूर है इसमें कैल्शियम, फाइबर, विटामिन सी और मैग्निशियम भरपूर होते हैं । यह सभी आयु समूहों के लिए फायदेमंद है ।

3. अस्थि स्वास्थ्य को बढ़ावा – अनन्नास रस में मैग्निशयम और कैल्शियम हडिडयों और संयोजी ऊतक के निर्माण में मदद करता है तथा उन्हें मजबूत कर स्वस्थ्य रखता है ।

4. पाचन तंत्र को सुदढ़ बनाता है – ब्रोमिलेन प्रोटीन को पाचन में प्रभावी अनन्नास फाइबर पाचन को नियंत्रित करता है । रस पेट के कीड़ों को समाप्त करता है । अनन्नास प्राकृतिक मूत्रवर्धक है यह गुर्दे और जिगर से विषाक्त पदार्थो को निकालता है ।

5.  प्रतिरक्षा बढ़ाता है – अनन्नास विटामिन सी में समृद्ध होने से खांसी, जुकाम, गले और ब्रोंकाइटिस गंभीर बीमारी को रोकता है । स्वस्थ्य श्रवसन प्रणाली बनाता है ।

6. अनन्नास का रस घाव भरने में मदद करता है ।

7. अनन्नास मुधमेह, हदय रोग, अस्थमा, पेट के कैंसर, डिम्ब ग्रन्थि , स्तन वृध्दान्त्र, पेट के कैंसर, फैफड़ों और त्वचा कैंसर, ओस्टियो आर्थराइटिस और रूमेटी गठिया, उत्कृष्ट सर्दी और फलू और आंख की समस्याओं में लाभकारी है ।

. अनन्नास का पोषक मान (100 ग्राम ) -ऊर्जा 48 किलो कैलारी, कार्बोहाइडेट 12.63 ग्राम, शर्करा 9.26 ग्राम, फाइबर 1.6 ग्राम, वसा 0.12 ग्राम, प्रोटीन 0.54 ग्राम, विटामिन बी1 7 प्रतिशत, बी2 3 प्रतिशत, बी 3 3 प्रतिशत, बी 5 4 प्रतिशत, बी 6 8 प्रतिशत, बी 9 4 प्रतिशत, विटामिन सी 44 प्रतिशत, कैल्शियम 1 प्रतिशत, पोटेशियम 2 प्रतिशत, जस्ता 1 प्रतिशत, लोहा 2 प्रतिशत, मैग्निशियम 3 प्रतिशत, मैंगनीज 4 प्रतिशत, फास्फोरस 1 प्रतिशत ।

साइड इफेक्टस – अनन्नास से कुछ लोगों को एलर्जी हो सकती है ओठों पर दाने और सूजन आ सकती है  अधिक अनन्नास खाने से दस्त लग सकते हैं तथा अत्यधिक माहवारी रक्त स्त्राव हो सकता है । अधिक अनन्नास खाने से गर्भवती महिलाओं में गर्भपात भी हो सकता है । कच्चा अनन्नास खाना परेशानियों का कारण बन सकता है । अनन्नास खाली पेट न खांए, खाली पेट खाने से यह विष के समान हानि पहुंचाता है ।

Related posts

लौंग के लाभकारी नुस्खे

admin

मैं और मेरे जज़्बात

admin

इन आसान घरेलु नुस्खों से पाएं ढीली त्वचा से छुटकारा

admin

Leave a Comment