रोचक खबर

भ्रष्टाचार के मामलों को तेजी से निपटाने पर सीवीसी का जोर

भ्रष्टाचार के मामलों को तेजी से निपटाने पर सीवीसी का जोर

हैदराबाद। केंद्रीय सतर्कता आयुक्त केवी चौधरी ने भ्रष्टाचार से संबंधित मामलों को तेजी से निपटाने पर जोर देते हुए कहा है कि धोखाधड़ी का पता लगाना आयोग की प्राथमिकता होनी चाहिए। मंगलवार को एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए सीवीसी ने कहा कि वे इस बात के पक्ष में बिलकुल नहीं हैं कि 100 मामले दर्ज कर उनको सुलझाने में 10 साल का समय लगाया जाए।

इससे बेहतर है कि यदि संभव हो तो सिर्फ 10 मामले दर्ज किए जाएं और उनको सालभर के अंदर निपटा दिया जाए। उन्होंने कहा कि जब कोई मामला आपके सामने आता है, तो सबसे पहले पता कीजिए कि वह भ्रष्टाचार से जुड़ा हुआ तो नहीं है? और ऐसे मामलों को जब एक बार आप अपने हाथ में ले लेते हैं, तो फिर एक निश्चित समय के भीतर उसे तार्किक परिणति तक पहुंचा दीजिए।

यदि हम ऐसा नहीं कर सकते तो सड़ांध बदस्तूर बनी रहेगी और बढ़ेगी भी। मेरा व्यक्तिगत नजरिया ये है कि हमें कुछ ही मामलों को हाथ में लेना चाहिए और निश्चित समय में उन्हें तार्किक परिणति तक पहुंचा देनी चाहिए। हमें देखना होगा कि हम सरकार की खामियों को उजागर कर पा रहे हैं या नहीं? या व्यवस्थागत धोखाधड़ी को उजागर कर पा रहे हैं या नहीं?

उन्होंने कहा कि केंद्रीय सतर्कता आयोग जल्द ही वित्तीय क्षेत्र के मुख्य सतर्कता अधिकारियों के लिए पहली कार्यशाला का आयोजन करेगा। इसमें प्रशासनिक खामियों और सतर्कता के नजरिये में अंतर पर चर्चा की जाएगी।

Related posts

होंडा की सीबीआर650एफ सुपर बाइक

admin

छोटे पर्दे से बड़े पर्दे पर आते ही बोल्ड हुई यह अभिनेत्री

admin

पाक जाएंगे पीएम मोदी, कबूला शरीफ का न्योता

admin

Leave a Comment